Search
Close this search box.

एसपी हजारीबाग ने चौपारण थाना प्रभारी को प्रशस्ति पत्र देकर किया समान्नित

एसपी हजारीबाग ने चौपारण थाना प्रभारी को प्रशस्ति पत्र देकर किया समान्नित

Join Us On

एसपी हजारीबाग ने चौपारण थाना प्रभारी को प्रशस्ति पत्र देकर किया समान्नित

एसपी हजारीबाग ने चौपारण थाना प्रभारी को प्रशस्ति पत्र देकर किया समान्नित

चौपारण : हजारीबाग जिला में लोकसभा 2024 का चुनाव शांतिपूर्ण सम्पन्न कराने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले कई पुलिस अधिकारियों को जिला पुलिस अधीक्षक अरबिंद कुमार सिंह हजारीबाग के द्वारा प्रशस्ति पत्र देकर शुक्रवार को समान्नित किया गया। इस दौरान जिला पुलिस अधीक्षक अरबिंद कुमार सिंह ने हजारीबाग जिला में लोकसभा-2024 का चुनाव निष्पक्ष, भयमुक्त एवं शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न कराने में महत्वपूर्ण भूमिका के लिए दीपक कुमार सिंह, थाना प्रभारी चौपारण को भी प्रशस्ति पत्र देकर समान्नित किया। साथ ही प्रशस्ति पत्र में कहा कि इनके कुशल नेतृत्व, अथक प्रयास एवं कठिन मेहनत से लोकसभा-2024 का चुनाव निष्पक्ष, भयमुक्त एवं शांतिपूर्ण तरीके से सम्मपन्न हो सका। इनका यह कार्य काफी सराहनीय है।

इस सराहनीय कार्य के लिए पु.अ.नि. दीपक कुमार सिंह, थाना प्रभारी चांपारण, हजारीबाग को प्रशस्ति पत्र से पुरस्कृत किए गए हैं।

बिना किसी विवाद के चौपारण में शांतिपूर्ण समपन्न हुआ था लोकसभा चुनाव

ज्ञात हो कि लोकसभा चुनाव के आचार संहिता लगने के ठीक 28 दिन पहले 18 फरवरी को चौपारण में 38 वें थाना प्रभारी के तौर पर दीपक कुमार सिंह ने पदभार ग्रहण किया। जिले के सबसे बड़े प्रखण्ड और बिहार राज्य के सीमा से सटे होने के कारण लोकसभा चुनाव के ठीक पहले किसी नए अधिकारी के लिए प्रशासनिक कमान किसी चुनौती से कम नहीं था पर इन्होंने अपने बेहतर कार्यशैली के बदौलत एसडीओ जोहान टूद्दु, डीएसपी सुरजीत कुमार व निर्वाचन पदाधिकारी सह सीओ संजय यादव के मार्गदर्शन में मिलकर चुनाव को शांतिपूर्ण समपन्न करवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाया और पहली बार बिना किसी हो हल्ला,बिना किसी विवाद के प्रखण्ड के सभी 170 बूथों पर मतदान शांतिपूर्ण समपन्न हुआ। ज्ञात हो कि
जॉइनिंग के चार माह से भी कम दिनों में ही इन्होंने 60 से अधिक गांजा,डोडा,अफीम,चरस,ब्राउन और पशु तस्करों को जेल भेज चुके हैं। वहीं चुनाव आचार संहिता लगने के बाद थाना क्षेत्र अंतर्गत दो दर्जन से अधिक कारवाई में 2 करोड़ के अधिक लागत के मादक पदार्थो को भी जप्त कर अपने नाम कई ऐसे रिकॉर्ड दर्ज कर चुके हैं।

बड़ी खबर : झारखंड में 33 हजार शिक्षकों की होगी नियुक्ति, इसी माह से शुरू होगी प्रक्रिया

Slide Up
x

Leave a Comment