Search
Close this search box.

पुलिस कस्टडी में माँ को मुखाग्नि देने पहुंचा बेटा,दोहरे गम में डूबे परिजन

पुलिस कस्टडी

Join Us On

पुलिस कस्टडी में माँ को मुखाग्नि देने पहुंचा बेटा,दोहरे गम में डूबे परिजन

पुलिस कस्टडी

 

चौपारण : बेटे के जेल जाने के दर्द को माँ बर्दाश्त नहीं कर सकी। और बेटे के जेल जाने के बाद से ही वह अस्वस्थ रहने लगी। खाना पीना भी त्याग चुकी थी। अंततः शुक्रवार को माँ का निधन हो गया। मामला दादपुर पंचायत के ग्राम दादपुर का है। बतादें कि रामनवमी व लोकसभा चुनाव के आचार संहिता लगने के पहले पुलिस ने एक मामले में दादपुर के हिरामन रजक को गिरफ्तार कर जेल भेजी थी।

पर लोकसभा में आचार संहिता लगने के कारण अभी तक बेल नहीं मिल पाया। इसी बीच शुक्रवार को हिरामन रजक के वृद्ग माँ सरस्वती देवी पति स्व महरु रजक का निधन हो गया। जिसके बाद माँ के अग्नि संस्कार व अंतिम दर्शन के लिए कोर्ट में अर्जी लगाई गई। जिसके बाद हिरामन रजक पे रॉल पर पुलिस कस्टडी में मां के अग्नि संस्कार के लिए घर पहुंचे। घर पहुंचते ही परिजन दोहरे गम में डूब गए।

सभी गले लगाकर फुट फुट कर रोने लगे। ततपश्चात मां को कंधा देते हुए श्मशान घाट गए और मां का अग्निसंस्कार के बाद पुलिस पुनः अपने कस्टडी में वापस केन्द्रीय कारा हजारीबाग ले गए। अंतिम संस्कार के मौके पर पूर्व मुखीया प्रतिनिधि अरबिंद सिन्हा, मुखीया गंदौरी दांगी,कांग्रेस के पूर्व प्रखण्ड अध्यक्ष विकास यादव,जेएमएम पूर्व जिला उपाध्यक्ष बिरेन्द्र राणा,शिक्षक कमलेश कुमार कमल,जितेंद्र सिंह,राजू रजक, मुनेश्वर रजक, गोबिंद रजक, गोलू रजक, रामचन्द्र रजक सहित सैकड़ो लोग शामिल थे।

बड़ी खबर : झारखंड में नियुक्ति गड़बड़ी मामले में राज्य सरकार और विधानसभा ने हाई कोर्ट में सौंपी सीलबंद रिपोर्ट

Slide Up
x

Leave a Comment