महिलाओं को हर महीने 1 हजार,मंत्रिमंडल से मंजूरी मिली,जाने किन महिला और कब से भरा जाएगा आवेदन

महिलाओं को हर महीने 1 हजार,मंत्रिमंडल से मंजूरी मिली,जाने किन महिला और कब से भरा जाएगा आवेदन

Join Us On

महिलाओं को हर महीने 1 हजार,मंत्रिमंडल से मंजूरी मिली,जाने किन महिला और कब से भरा जाएगा आवेदन

महिलाओं को हर महीने 1 हजार,मंत्रिमंडल से मंजूरी मिली,जाने किन महिला और कब से भरा जाएगा आवेदन

राँची : झारखंड मंत्रिमंडल ने शुक्रवार को हुए कैबीनेट (Jharkhand Cabinate ) बैठक में झारखंड के महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए महत्वाकांक्षी योजना को मंजूरी दे दी है। जिससे राज्यभर की 45 लाख महिलाओं को लाभ मिलेगा और सरकार ने महिलाओं को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाने के लिए एक महत्वाकांक्षी वित्तीय सहायता योजना को मंजूरी दीहै। यह योजना 21 से 50 वर्ष की उम्र की महिलाओं के लिए है। जिन्हें 1000 रु प्रतिमाह मिलेगा।मुख्यमंत्री चंपई सोरेन की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक में इसकी मंजूरी दी गई।

किन महिलाओं को मिलेगा इस योजना का लाभ

मंत्रिमंडल सचिव वंदना दादेल ने बताया कि मुख्यमंत्री बहन बेटी स्व-सहायता प्रोत्साहन योजना योजना 21 से 50 वर्ष की उम्र की महिलाओं के लिए है। पर योग्य महिलाएं ही इसके पात्र होंगे। महिला, बाल विकास एवं सामाजिक सुरक्षा विभाग के सचिव मनोज कुमार ने जानकारी दी है कि आयकरदाता, सरकारी कर्मचारी, ईपीएफ धारक और कुछ अन्य श्रेणियों के महिलाओं को इस योजना के लाभ से बाहर रखा गया है।

कुमार ने कहा कि इस योजना का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को सशक्त बनाना, उन्हें आत्मनिर्भर बनाना और उनके लिए बेहतर शिक्षा तथा स्वास्थ्य सुनिश्चत करना है। राज्य सरकार इस योजना के लिए हर वर्ष 5,500 करोड़ रुपये वहन करेगी।बतादें कि झारखंड की चंपाई सोरेन सरकार मुख्यमंत्री बहन बेटी स्व-सहायता प्रोत्साहन योजना के अंतर्गत प्रत्येक योग्य महिला को 1,000 रुपये प्रति माह देगी। ।

कब से कर सकेंगे आवेदन,क्या क्या लगेगा डॉक्यूमेंट

जल्द ही आवेदन जुटाने के लिए विभाग अभियान शुरू करेगा ताकि अधिक से अधिक महिलाएं को इसका लाभ मिल सकें। सम्भवतः आवेदन फॉर्म जुलाई महीने से शुरू हो जाएगी। आवेदन के लिए आधार कार्ड ,वोटर कार्ड , राशन कार्ड ,पासबुक ,मोबाइल नंबर कआ होना जरूरी है। फिलहाल गाइडलाइंस आना बाकी है। गाइडलाइन्स आते ही आवेदन प्रक्रिया शुरू होगी। इससे पहले झारखंड मंत्रिमंडल ने जनवरी में 50 वर्ष से अधिक आयु की सभी महिलाओं, आदिवासियों एवं दलितों को वृद्धावस्था पेंशन योजना में शामिल करने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी थी। इससे पूर्व इस योजना का लाभ केवल 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को ही मिलता था, जिसके अंतर्गत प्रत्येक लाभार्थी को प्रति माह 1,000 रुपये मिलता है

चार माह से नहीं मिला पेंशन

बतादें कि एक तरफ सरकार 25 वर्ष के ऊपर की महिलाओं को पेंशन देने को मंजूरी दी है। वहीं बीते चार महीनों से वृद्धा पेंशन व महिला पेंशन नहीं मिला है। जिससे पेंशन धारकों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। पेंशन धारक बार बार सीएसपी केंद्र व बैंक का चक्कर पैसा निकालने के लिए लगा रहे हैं पर उन्हें खाली हाथ लौटना पड़ रहा है।

बड़ी खबर : झारखंड कैबिनेट में 40 महत्वपूर्ण प्रस्तावों को मंजूरी,BRP CRP और सरकारी कर्मियों को तौहफा, बिजली 200 यूनीट तक फ्री, रोजगार

Leave a Comment