KGBV की दसवीं की छात्रा गर्भवती, प्रसव के दौरान मौत, आरोपी अभी तक पुलिस के गिरफ्त से बाहर

*नाबालिग गर्भवती छात्रा की प्रसव के दौरान हुई मौत, आरोपी अभी तक पुलिस के गिरफ्त से बाहर।* *बरकट्ठा: कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में दसवीं की छात्रा की हजारीबाग में इलाज के दौरान मौत हो गई। जानकारी हो कि ढाई माह पूर्व कस्तूरबा विद्यालय में पढ़ने वाली नाबालिग लड़की जो कस्तूरबा में पढाई करते हुए से स्कूली आवर में अपने प्रेमी तेलोडीह बरही निवासी रूपेश राम पिता महादेव राम ने शादी का प्रलोभन देकर शारीरिक संबंध बनाया। जिससे लड़की गर्भवती हो गई थी। इस मामले को लेकर बरकट्ठा थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। गुरूवार की रात नाबालिग लड़की की किसी प्राइवेट नर्सिंग होम में डीलीवरी कराई गई जहां बच्चे और नाबालिग लड़की की मौत हो गई। इस केस में पुलिस उस आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर पाई है जिससे लड़की के परिजनों में आक्रोश व्याप्त है। सूचना मिलने पर पुलिस लड़की का शव को पोस्टमार्टम कराने हेतु उसके शव को लाने गई तो पुलिस को उसके परिजनों के आक्रोश का सामना करना पड़ा। किसी तरह समझा बुझाकर कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कॉलेज हजारीबाग भेजा गया।* *इस बाबत थाना प्रभारी राजेश कुमार भोगता ने बताया कि उक्त आरोपी की गिरफ्तारी हेतु कई बार प्रयास किया गया परन्तु अब तक पकड़ में नहीं आया। पुलिस उसे जल्द ही गिरफ्तार करेगी।* *इस बाबत कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय की वार्डन सिम्पल कुमारी ने बताया कि मेरे अनुपस्थिति में विद्यालय से उस लड़का को अपना भाई बता कर बाहर गई थी, सूचना मिलने पर हमने उसे काफी डांट लगाई और सभी को बिना आईडी कार्ड दिखाए किसी भी बच्ची को बाहर आने जाने की सख्त मनाही कर दी।*

Join Us On

KGBV की दसवीं की छात्रा गर्भवती, प्रसव के दौरान मौत, आरोपी अभी तक पुलिस के गिरफ्त से बाहर

*नाबालिग गर्भवती छात्रा की प्रसव के दौरान हुई मौत, आरोपी अभी तक पुलिस के गिरफ्त से बाहर।**बरकट्ठा: कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में दसवीं की छात्रा की हजारीबाग में इलाज के दौरान मौत हो गई। जानकारी हो कि ढाई माह पूर्व कस्तूरबा विद्यालय में पढ़ने वाली नाबालिग लड़की जो कस्तूरबा में पढाई करते हुए से स्कूली आवर में अपने प्रेमी तेलोडीह बरही निवासी रूपेश राम पिता महादेव राम ने शादी का प्रलोभन देकर शारीरिक संबंध बनाया। जिससे लड़की गर्भवती हो गई थी।  इस मामले को लेकर बरकट्ठा थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी।  गुरूवार की रात नाबालिग लड़की की किसी प्राइवेट नर्सिंग होम में डीलीवरी कराई गई जहां बच्चे और नाबालिग लड़की की मौत हो गई। इस केस में पुलिस उस आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर पाई है जिससे लड़की के परिजनों में आक्रोश व्याप्त है। सूचना मिलने पर पुलिस लड़की का शव को पोस्टमार्टम कराने हेतु उसके शव को लाने गई तो पुलिस को उसके परिजनों के आक्रोश का सामना करना पड़ा। किसी तरह समझा बुझाकर कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कॉलेज हजारीबाग भेजा गया।*
*इस बाबत थाना प्रभारी राजेश कुमार भोगता ने बताया कि उक्त आरोपी की गिरफ्तारी हेतु कई बार प्रयास किया गया परन्तु अब तक पकड़ में नहीं आया। पुलिस उसे जल्द ही गिरफ्तार करेगी।*
*इस बाबत कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय की वार्डन सिम्पल कुमारी ने बताया कि मेरे अनुपस्थिति में विद्यालय से उस लड़का को अपना भाई बता कर बाहर गई थी, सूचना मिलने पर हमने उसे काफी डांट लगाई और सभी को बिना आईडी कार्ड दिखाए किसी भी बच्ची को बाहर आने जाने की सख्त मनाही कर दी।*

बरकट्ठा: कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में दसवीं की छात्रा की हजारीबाग में इलाज के दौरान मौत हो गई। जानकारी हो कि ढाई माह पूर्व कस्तूरबा विद्यालय में पढ़ने वाली नाबालिग लड़की जो कस्तूरबा में पढाई करते हुए से स्कूली आवर में अपने प्रेमी तेलोडीह बरही निवासी रूपेश राम पिता महादेव राम ने शादी का प्रलोभन देकर शारीरिक संबंध बनाया। जिससे लड़की गर्भवती हो गई थी। इस मामले को लेकर बरकट्ठा थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी।

गुरूवार की रात नाबालिग लड़की की किसी प्राइवेट नर्सिंग होम में डीलीवरी कराई गई जहां बच्चे और नाबालिग लड़की की मौत हो गई। इस केस में पुलिस उस आरोपी को गिरफ्तार नहीं कर पाई है जिससे लड़की के परिजनों में आक्रोश व्याप्त है। सूचना मिलने पर पुलिस लड़की का शव को पोस्टमार्टम कराने हेतु उसके शव को लाने गई तो पुलिस को उसके परिजनों के आक्रोश का सामना करना पड़ा। किसी तरह समझा बुझाकर कर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मेडिकल कॉलेज हजारीबाग भेजा गया।

इस बाबत थाना प्रभारी राजेश कुमार भोगता ने बताया कि उक्त आरोपी की गिरफ्तारी हेतु कई बार प्रयास किया गया परन्तु अब तक पकड़ में नहीं आया। पुलिस उसे जल्द ही गिरफ्तार करेगी। इस बाबत कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय की वार्डन सिम्पल कुमारी ने बताया कि मेरे अनुपस्थिति में विद्यालय से उस लड़का को अपना भाई बता कर बाहर गई थी, सूचना मिलने पर हमने उसे काफी डांट लगाई और सभी को बिना आईडी कार्ड दिखाए किसी भी बच्ची को बाहर आने जाने की सख्त मनाही कर दी।

बड़ी खबर : नौकरी के इन्तेजार की घड़ी खत्म,सितंबर तक झारखंड में JSSC करेगा 35 हजार पदों पर बहाली,सीएम के साथ हुई बैठक

 

KGBV की दसवीं

Leave a Comment