Search
Close this search box.

सात या आठ फरवरी को हो सकता है झारखंड कैबिनेट का विस्तार

झारखंड कैबिनेट की बैठक 23 फरवरी को, इन महत्‍वपूर्ण फैसलों पर लग सकती है मुहर

Join Us On

सात या आठ फरवरी को हो सकता है झारखंड कैबिनेट का विस्तार

सात या आठ फरवरी को हो सकता है झारखंड कैबिनेट का विस्तार

झारखंड में चम्पई सोरेन की सरकार ने सोमवार को विधानसभा में अपना विश्वास मत हासिल की। मतदान में विश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 47 वोट पड़े,जबकि इनके विरूद्ध 29 विधायकों ने वोट डाले। झारखंड सरकार को झामुमो, कांग्रेस, राजद के साथ अन्य दल का भी समर्थन मिला। विधानसभा का विशेष सत्र की शुरुआत राज्यपाल सीपी राधाकृष्णन के अभिभाषण के साथ हुआ।

विश्वास प्रस्ताव के पक्ष में पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन सहित तीनों दलों के सभी विधायकों (स्पीकर रबींद्रनाथ महतो को छोड़कर) ने अपना वोट डाले वहीं भाजपा के 25, आजसू के तीन सुदेश महतो, लंबोदर महतो और सुनीता चौधरी और नेशनल कांग्रेस पार्टी के एक विधायक कमलेश सिंह ने विश्वास प्रस्ताव के विरुद्ध में मतदान किया।

गौरतलब हो कि चम्पाई सोरेन सरकार का फ्लोर टेस्ट में पास होने के बाद अब लोगों की निगाहें मंत्रिमंडल विस्तार पर टिकी हुई है। चम्पाई सोरेन सरकार में 12 मंत्री हो सकते हैं। जिसमें आलमगीर आलम और सत्यानन्द भोक्ता मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण के साथ ही मंत्री पद का शपथ ले चुके हैं। मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर विधानसभा में सत्ता विधायकों के साथ मंत्रणा भी हुई।

मौके पर मुख्यमंत्री चंपई सोरेन ने विश्वास मत हासिल करने के बाद मीडिया से बात करते हुए कहा कि दो से तीन दिनों में मंत्रिमंडल विस्तार हो जाएगा। 7 से 8 फरवरी तक मंत्रिमंडल का विस्तार हो सकता है। झारखंड में मंत्रिमंडल में 12 मंत्रियों का कोटा है पर रघुवर सरकार और पिछली हेमंत सोरेन सरकार में 12वें मंत्री का पद रिक्त ही था।

बड़ी खबर : झारखंड दौरे पर राहुल गांधी ने साइकिल से कोयला ढोने वाला का समझा दर्द,

x

Leave a Comment