Search
Close this search box.

आज का दिन होगा ऐतिहासिक! मंदिर के गर्भगृह में विराजमान होगी रामलला की प्रतिमा,मात्र 84 सेकेंड ही है शुभ मुहूर्त

आज का दिन होगा ऐतिहासिक! मंदिर के गर्भगृह में विराजमान होगी रामलला की प्रतिमा,

Join Us On

आज का दिन होगा ऐतिहासिक! मंदिर के गर्भगृह में विराजमान होगी रामलला की प्रतिमा,

आज का दिन होगा ऐतिहासिक! मंदिर के गर्भगृह में विराजमान होगी रामलला की प्रतिमा,

आज यानि 18 जनवरी का दिन ऐतिहासिक होगा । आज ही राम मंदिर में भगवान राम की मूर्ति का प्रवेश होगा। 22 जनवरी को अयोध्या में राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम शुरू होगा।

वहीं जिस प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा की जानी है, आज उसे गर्भ गृह में अपने आसन पर खड़ा कर दी जाएगी। हिन्दू धर्म में किसी भी शुभ कार्य से पहले भगवान गणेश की पूजा होती है। ऐसे में 18 जनवरी को आज पूर्व पांच दिवसीय अनुष्ठान में गणेश, अंबिका एवं तीर्थ पूजा की जाएगी।

18 जनवरी को जल यात्रा भी होगा। उसके बाद अधिवास आयोजित होंगे। अधिवास वह प्रक्रिया है जिसमें मूर्ति को विभिन्न सामग्रियों में कुछ समय तक के लिए रखी जाती है। कहते हैं मूर्ति पर शिल्पकार के औजारों से आई चोट अधिवास से ठीक हो जाता है। तमाम दोष भी खत्म हो जाते हैं।

बतादें कि 16 जनवरी से ही मंदिर प्रांगण में पूजन विधि एवं अनुष्ठान का पवित्र सिलसिला आरंभ हो चुका है। भक्ति और हर्ष का यह वातावरण आज और भी गहरा हो जाएगा, जब रामलला की मूर्ति को उनकी नई, स्थायी गद्दी पर विराजमान होंगे। यह मूर्ति शालिग्राम शिला से निर्मित है, जिसे पवित्र भी माना जाता है एवं भगवान विष्णु का स्वरूप भी माना जाता है। यह क्षण न केवल अयोध्या वासियों के लिए, बल्कि समस्त भारत के लिए ऐतिहासिक एवं आनंद-भरे उत्सव का अवसर है।

22 जनवरी का दिन और भी पावन होने जा रहा है जब प्राण-प्रतिष्ठा के साथ रामलला को जीवन का स्पर्श दी जाएगी। लाखों श्रद्धालुओं की आस्था मूर्त रूप में लहराएगी, रामभक्ति का सागर अयोध्या की गलियों में ही नहीं बल्कि पूरे भारत में उफान मारेगा।

भगवान रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा योग का शुभ मुहूर्त, पौष शुक्ल कूर्म द्वादशी, विक्रम संवत 2080, यानि की सोमवार, 22 जनवरी, 2024 को है। सभी शास्त्रीय परंपराओं का पालन करते हुए, प्राण-प्रतिष्ठा का कार्यक्रम अभिजीत मुहूर्त में संपन्न होगा।

राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा का समय 12 बजकर 29 मिनट 8 सेकंड से 12 बजकर 30 मिनट 32 सेकंड पर होगा। प्राण प्रतिष्ठा के लिए मात्र 84 सेकेंड के लिए ही प्राण प्रतिष्ठा का मुहूर्त रहेगा ।

बड़ी खबर : झारखंड सिविल सेवा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों के लिए खुशखबरी, मिलेगा आयुसीमा में छूट, इन पदों पर बहाली

x

Leave a Comment