Search
Close this search box.

कहीं सरकारी छुट्टी तो कहीं दिवाली, जानिए आपके राज्य में 22 जनवरी को क्या-क्या होगा

कहीं सरकारी छुट्टी तो कहीं दिवाली, जानिए आपके राज्य में 22 जनवरी को क्या-क्या होगा

Join Us On

कहीं सरकारी छुट्टी तो कहीं दिवाली, जानिए आपके राज्य में 22 जनवरी को क्या-क्या होगा

कहीं सरकारी छुट्टी तो कहीं दिवाली, जानिए आपके राज्य में 22 जनवरी को क्या-क्या होगा

रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की तैयारी पूर्ण हो चुकी है। 22 जनवरी को दोपहर 12 बजकर 20 मिनट पर मूर्ति का प्राण प्रतिष्ठा होगी। दुनियाभर में मौजूद रामभक्त इस ऐतिहासिक क्षण का गवाह बनने के लिए बेसब्री से इंतजार कर रहे है । देशभर के मंदिरों को इस दिन के लिए विशेष तैयारियां भी की जा रही है।

कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक एवँ अरुणाचल से लेकर अहमदाबाद तक, राम भक्तों के अंदर इस दिन को लेकर काफी उत्साह है।

भले ही श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ ट्रस्ट ने कुछ खास लोगों को ही 22 जनवरी को अयोध्या आमंत्रित किया है पर विभिन्न राज्यों में राज्य सरकार एवं राम भक्तों ने अलग-अलग तैयारियां की है। आइए जरा जानते हैं कि किस राज्य में राम मंदिर के उद्घाटन के अवसर पर क्या-क्या तैयारियां हो रही है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्राण प्रतिष्ठा समारोह के अवसर पर पूरे प्रदेश में सार्वजनिक अवकाश घोषित की है। इस दिन सभी शिक्षण संस्थाएं एवं सरकारी कार्यालय समेत अन्य प्रतिष्ठान बंद रहेंगे। इस संबंध में इसका आदेश भी जारी कर दिया गया है।

वहीं राज्य सरकार के मुताबिक प्रदेश के सभी कार्यालयों में 22 से 26 जनवरी तक विशेष प्रकाश की व्यवस्था की जाए। इसके अलावा सभी सरकारी इमारतों, स्कूल, कॉलेज को सजाने भी कहा गया है।

बात करें अयोध्या (Ayodhya) की तो 22 जनवरी को सरयू घाट पर दीपोत्सव एवं भव्य आतिशबाजी का आयोजन किया जाएगा। अयोध्या के हर घाट एवं मंदिरों में दीपोत्सव कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। बताते चलें कि सीएम योगी के निर्देश पर परिवहन विभाग के सभी बसों में 22 जनवरी तक राम भजन ही बजेंगे।

नोएडा, ग्रेटर नोएडा, अयोध्या सहित यूपी के कई जिलों में 22 जनवरी को ‘ड्राई डे’ घोषित की गई है। इन जिलों में शराब के सभी दुकानें भी बंद रहेगी।

मध्य प्रदेश की मोहन यादव की सरकार 22 जनवरी को राज्य में दिवाली मनाने की तैयारी में जुट गई है। सीएम मोहन यादव ने कुछ दिनों पहले कहा था,”मैं कहना चाहता हूं कि 22 जनवरी को जो जहां रहेंगे वे उसी स्थान पर भगवान राम का स्मरण करते हुए दिवाली मनाएंगे। मध्य प्रदेश में 22 जनवरी को दिवाली मनाया जाएगा। प्रदेश के पूरे मंदिरों को सरकार पुष्पों से एवं रोशनी से सजा आएगी, हर घर में उत्सव जैसा माहौल रहेगा।”

वही 22 जनवरी को मध्य प्रदेश में भी ड्राइ डे का भी एलान कर दिया गया है। शराब, भांग की सभी दुकानो को भी बंद रखने का निर्देश है इसके अलावा एमपी में 22 जनवरी को सभी स्कूल-कॉलेज बंद भी रहेंगे।

बिहार में रामलला की प्राण- प्रतिष्ठा की रौनक बिहार में दिखने वाला है। राज्य के करीब चार हजार एवं पटना के पांच हजार से अधिक मंदिरों में विभिन्न कार्यक्रम के आयोजन होंगे। पटना में तकरीबन 201 मंदिरों में दीपोत्सव भी किया जाएगा।

राजस्थान में 22 जनवरी को शराब की दुकानें बंद रहेगा। इसके अलावा छत्तीसगढ़ में विष्णु देव साई सरकार ने भी रेस्तरां पब एवं क्लबों को बंद रखने के निर्देश दिए हैं।वहीं, इस दिन सभी शराब के सभी दुकान बंद रहेगा। हरियाणा में भी मनोहर लाल सरकार ने 22 जनवरी को राज्य में ‘ड्राई डे’ की घोषणा किया है।

झारखंड में 22 जनवरी को अवकाश घोषित करें सरकार : संजय सेठ

श्री राम धाम अयोध्या में रामलला की प्रतिमा के प्राण प्रतिष्ठा एवं मंदिर के उद्घाटन के मौके पर 22 जनवरी को झारखंड में राजकीय अवकाश घोषित करने की मांग सांसद संजय सेठ ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर की है।

सीएम को भेजे पत्र में सांसद ने लिखा है कि इस दिन राज्यभर में मटन, चिकेन एवं शराब की बिक्री को भी बंद रखा जाए, ताकि रामलला के पुन आगमन का यह उत्सव हम और भी अधिक भावपूर्ण एवं सात्विक तरीके से मना सकें। पत्र में उन्होंने कहा है कि 22 जनवरी भारतीय इतिहास का वह दिन है, जिसकी प्रतिक्षा सदियों से भारत के जनमानस कर रहे थे। यह दिन लंबे समय के संघर्ष, त्याग एवं तपस्या के बाद सौभाग्य के रूप में हम सभी को मिला है। उन्होंने उम्मीद जताई है कि राज्य के मुखिया होने के नाते भी सीएम उत्सव में शामिल होंग

हम सभी अपने अराध्य रामलला की प्रतिमा की पुर्न प्रतिष्ठा अयोध्याधाम में हो रहे हैं। इस दिन को लेकर हमारा गौरव इसलिए भी बढ़ जाता है, क्योंकि झारखंड से भगवान श्रीराम का भी अनन्य प्रेम रहे है। भगवान श्रीराम के अनन्य भक्त श्री हनुमान जी की जन्मस्थली भी झारखंड में ही है। यह दिन सिर्फ हिन्दू समाज के लिए नहीं, बल्कि पूरे भारतवर्ष के लिए अविस्मरणीय दिवस है। संविधान एवँ शासन व्यवस्था में हम जिस राम राज्य की संकल्पना की बातें करते हैं, यह हम जनप्रतिनिधियों और शासन के लिए भी गौरव की बात है। उन्होंने पत्र में बताया है कि इस तिथि को लेकर संपूर्ण समाज स्वत स्फूर्त होकर दीवाली मनाने की तैयारी हो रहा है। कई धार्मिक, सामाजिक और सांस्कृतिक उत्सव की तैयारी चल रही है।

बड़ी खबर : झारखंड के आंगनबाड़ी केंद्रों में निकली सेविका सहायिका की सीधी भर्ती, दसवीं पास करें आवेदन

x

Leave a Comment