Search
Close this search box.

JSSC : औद्योगिक प्रशिक्षण पदाधिकारी के नियुक्ति परीक्षा में आवेदन रद्द के बावजूद दर्जनों अभ्यर्थियों ने दिया परीक्षा

JSSC CGL प्रश्न लीक मामला : 27 लाख में नौकरी फिक्स,खेला का हुआ भंडाफोड़

Join Us On

JSSC : औद्योगिक प्रशिक्षण पदाधिकारी के नियुक्ति परीक्षा में आवेदन रद्द के बावजूद दर्जनों अभ्यर्थियों ने दिया परीक्षा, अब..

JSSC : औद्योगिक प्रशिक्षण पदाधिकारी के नियुक्ति परीक्षा में आवेदन रद्द के बावजूद दर्जनों अभ्यर्थियों ने दिया परीक्षा

झारखंड कर्मचारी चयन आयोग (जेएसएससी) द्वारा नवम्बर के अंतिम सफ्ताह में औद्योगिक प्रशिक्षण अधिकारी के नियमित और बैकलॉग पदों पर भर्ती के लिए परीक्षा आयोजित हुई थी। झारखंड औद्योगिक प्रशिक्षण अधिकारी के कुल 930 पदों के लिए 27, 28 एवं 29 नवंबर को परीक्षा ली गई थी। जिसमें नियमित के 904 एवं बैकलॉग के 26 पद शामिल हैं। पर नियम की अनदेखी कर एक से अधिक संवर्ग की परीक्षा में दर्जनों अभ्यर्थियों (समान नाम, समान जन्म तिथि व समान पिता का नाम) के शामिल होने का बड़ा मामला प्रकाश में आया है।

औद्योगिक प्रशिक्षण अधिकारी नियुक्ति परीक्षा के विज्ञापन के क्रम संख्या (13)- (VII) में स्पष्ट उल्लेख किया गया है कि यदि कोई अभ्यर्थी एक से अधिक ऑनलाइन फॉर्म कोवजमा करता है, तो लास्ट वाला ही उसके आवेदन को ही वैध माना जाएगा। और पहले जमा किए गए सभी ऑनलाइन फॉर्म को रद्द कर दी जाएगी । इसी नियम के पालन करते हुए JSSC ने कार्रवाई करते हुए 17 नवंबर को समान नाम, पिता एवं जन्मतिथि वाले एक से अधिक आवेदन देनेवाले 50 अभ्यर्थियों का दावेदारी को रद्द कर दिया था। उसके बाद भी दर्जनों ऐसे अभ्यर्थी परीक्षा में शामिल हुए हैं।

ऑल झारखंड सीआईटीएस/ सीटीआई प्रशिक्षित प्रशिक्षणार्थी संघ ने की ये मांग

ऑल झारखंड सीआईटीएस/ सीटीआई प्रशिक्षित प्रशिक्षणार्थी संघ ने JSSC से समान नाम वाले एक से अधिक परीक्षा में शामिल अभ्यर्थियों की पहचान कर दावेदारी को रद्द करने की मांग की है। और कहा कि एक परीक्षा में एक नियम रहने से ही प्रतिभागियों को न्याय मिल पायेगा

परीक्षा में शामिल अभ्यर्थियों ने आयोग से की ये मांग

परीक्षा में शामिल अभ्यर्थियों ने झारखंड कर्मचारी चयन आयोग से पूछा है कि सामान नाम के आधार पर 50 अभ्यर्थियों की दावेदारी को रद्द कर दी गई थी। उसके बावजूद समान नामवाले अभ्यर्थी एक से अधिक परीक्षा में शामिल होने में कैसे सफल हुए इस मामले की उच्चस्तरीय जांच कराने की आवश्यकता है।

बड़ी खबर : झारखंड के 62 हजार पारा शिक्षकों के खाते में इसी हफ्ते आएगा मानदेय,

x

Leave a Comment