Search
Close this search box.

जेएसएससी का विरोध करने वाले अभ्यर्थियों ने मीम्स जारी करने के साथ ही ट्विटर पर हैच टैग अभियान भी शुरू कर दिया है

JSSC CGL प्रश्न लीक मामला : 27 लाख में नौकरी फिक्स,खेला का हुआ भंडाफोड़

Join Us On

जेएसएससी का विरोध करने वाले अभ्यर्थियों ने मीम्स जारी करने के साथ ही ट्विटर पर हैच टैग अभियान भी शुरू कर दिया है

 

 

 

 

जेएसएससी का विरोध करने वाले अभ्यर्थियों ने मीम्स जारी करने के साथ ही ट्विटर पर हैच टैग अभियान भी शुरू कर दिया है

 

 

 दिसंबर 2022,  से झारखंड में  आशुलिपिक प्रतियोगिता परीक्षा को  रद्द कर दिया गया था, जब सभी अभ्यर्थी परीक्षा दे रहे थे। इसके विरोध पर अभ्यर्थियों की ओर से एक ट्विटर पर #JSSC_सिचवालय_स्टेनो_जारी_करो अभियान चलाई गई l सोशल मीडिया पर यह अभियान को हजारों  संख्या में लोगों ने समर्थन दिया था l  लेकिन इसे झारखंड हाईकोर्ट के आदेश के अनुसार उस समय रद्द कर दिया गया था, जब सभी उम्मीदवार परीक्षा केंद्रों पर परीक्षा देने पहुंचे गए थे।

 

हाईकोर्ट ने झारखंड सरकार को परीक्षा से संबंधित सभी नियमावली में कुछ सुधार के लिए आदेश दिया था। साथ ही यह भी कहा था कि परीक्षा को विज्ञापन पर फिर से प्रकाशित करे। लेकिन इस परीक्षा का दोबारा  नहीं निकाला गया। इससे राज्यभर के सभी उम्मीदवारों में आक्रोश है। 

 

 

नये विज्ञापन कैलेंडर में परीक्षा का जिक्र शामिल नहीं है.

मौखिक तौर पर कुछ अभ्यर्थियों ने  बताया कि JSSC की ओर से 21.04.2023 विज्ञापनों के लिए परीक्षा कैलेंडर प्रकाशित किया गया था। इसमें  रद्द परीक्षाओं के लिए विज्ञापन निकालने की तिथि प्रकाशित की गयी थी । लेकिन जून 2022 में रद्द की गईं आशुलिपिक परीक्षा का इसमें जिक्र नहीं किया गया था।

 

इस संबंध में सभी अभ्यर्थियों ने झारखंड के कार्मिक सचिव से मिलने की भी प्रयास की, परन्तु सचिव ने मिलने से इनकार कर दिया था। साथ ही मुख्य सचिव  तथा अन्य संबंधित अधिकारियों से मिलने का समय भी मांगा गया, पर अधिकारी बराबर मिलने से हमेशा कतराते रहे। वे अभ्यर्थियों को मिलने के बदले तारीख पर तारीख ही देते रहे ।

 

इन सभी  नेताओं को किया टैग

अभ्यर्थियों ने यह बताया कि JSSC_सिचवालय_स्टेनो_जारी_करो हैच टैग से  सीएम हेमंत सोरेन, चंपई सोरेन, बाबूलाल मरांडी और अंबा प्रसाद सरीखे नेताओं को साथ में जोड़ा है। इस संबंध में अलग-अलग मीम्स भी जारी किया गया हैं।

 

अभियान के दौरान  एक अभ्यर्थी ने सीएम हेमंत सोरेन तथा मुख्य सचिव से यह भी कहा है कि आप चाहें तो हमारी पीड़ा को चुटकियों में खत्तम कर सकते हैं। वहीं एक यूजर ने यह भी लिखा है कि, “अगर कार्मिक सचिव हमारी अपील को JSSC को भी भेजते हैं, तो उनको मैं मिठाई जरूर खिलाऊंगा।“       

 

 

 

Read more: Jharkhand Giridih Rojgar Mela 2023- Apply Online, Location , post 

x

Leave a Comment