पंचायत सचिवालय संघ के कर्मी तो हद कर दिए, कपड़े उतार सड़कों पर किया प्रदर्शन, सरकार की किरकिरी

पंचायत सचिवालय संघ के कर्मी तो हद कर दिए, कपड़े उतार सड़कों पर किया प्रदर्शन, सरकार की किरकिरी

Join Us On

पंचायत सचिवालय संघ के कर्मी तो हद कर दिए, कपड़े उतार सड़कों पर किया प्रदर्शन, सरकार की किरकिरी

पंचायत सचिवालय संघ के कर्मी तो हद कर दिए, कपड़े उतार सड़कों पर किया प्रदर्शन, सरकार की किरकिरी

झारखंड के पंचायत सचिवालय कर्मी तो मंगलवार को हद कर दिए। राज्य राजधानी राँची में अर्द्धनग्न अवस्था में सड़को पर प्रदर्शन किया । कर्मियों ने राँची के हरमू से मार्च निकाला और झामुमो कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया। इस दौरान सरकार पर मांगों को पूरा नहीं करने का आरोप लगाया। वार्ता में सहमति नहीं बनी अब 15 नवंबर को राज्य स्थापना दिवस के दिन राजधानी में एक बार फिर से नंग-धड़ंग प्रदर्शन होगा।

ततपश्चात झारखंड के पंचायत सचिवालय संघ के प्रतिनिधियों के साथ झामुमो के साथ वार्ता हुई। संघ के अध्यक्ष ने बताया कि झामुमो के केंद्रीय महासचिव विनोद पांडेय के साथ हुई वार्ता विफल रहा। हम सभी अपनी मांगों को लेकर अड़े हैं।

बतादें कि झारखंड में पंचायत सचिवालय संघ के 18 हजार स्वयंसेवकों की बहाली 2016 में हुई है। हर पंचायत में चार-चार पंचायत सचिवालय स्वयंसेवकों की बहाली आरक्षण रोस्टर का पालन करते हुए की गई थी। इन्हें सरकार की योजनाओं को धरातल पर उतारने की जिम्मेदारी दी गई थी। मानदेय के रूप में सरकार की ओर से अलग-अलग काम के लिए राशि भी निर्धारित की गई थी। स्वयं सेवकों ने यह भी कहा कि सरकार के द्वारा मानदेय की राशि भी कई माह से नहीं दिया गया है।

बड़ी खबर : पीएम मोदी झारखंड में रुकेंगे इतने घण्टे , पूरा शेड्यूल से समझे कार्यक्रम की रूप रेखा

x

Leave a Comment