Search
Close this search box.

मध्याह्न भोजन के मीनू में बड़ा बदलाव,रागी का हलवा/ लड्डूब के बाद अब तीन दिन ये देना अनिवार्य, पत्र जारी

मध्याह्न भोजन के मीनू में बड़ा बदलाव,रागी का हलवा/ लड्डूब के बाद अब तीन दिन ये देना अनिवार्य, पत्र जारी

Join Us On

मध्याह्न भोजन के मीनू में बड़ा बदलाव,रागी का हलवा/ लड्डूब के बाद अब तीन दिन ये देना अनिवार्य, पत्र जारी

मध्याह्न भोजन के मीनू में बड़ा बदलाव,रागी का हलवा/ लड्डूब के बाद अब तीन दिन ये देना अनिवार्य, पत्र जारी

झारखंड शिक्षा निदेशक किरण कुमारी पासी ने सभी जिला शिक्षा अधीक्षक को मध्याह्न भोजन में मेनू को लेकर पत्र लिखा गया है।

पत्र में कहा गया है कि प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजनान्तर्गत मध्याहन भोजन के मेनु में सप्ताह में तीन दिन मोरिंगा का पत्ता का उपयोग करने को कहा गया है।

उपर्युक्त विषयक प्रासंगिक पत्र के आलोक में कहा गया है कि प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजना अन्तर्गत भारत सरकार से प्राप्त निदेश के आलोक में सभी विद्यालयों में पोषण वाटिका का निर्माण करते हुए उसके उत्पाद का उपयोग मध्याहन भोजन में किया जाना है। 35484 विद्यालयों के विरुद्ध 8964 विद्यालयों में मोरिंगा का वृक्ष लगाया गया है तथा 21197 विद्यालयों में वर्षा ऋतु में पौधा लगाया जाना था। इस संबंध में यह भी अकनीय है कि सभी विद्यालयों में वित्तीय वर्ष 2023-24 में मोरिंगा का पौधा रोपण किया जाना है।

झारखण्ड सरकार ग्रामीण विकास विभाग का पत्रांक- 812 (अनु.) दिनांक- 14.06.2023 के द्वारा मनरेगा के अभिसरण से भी विद्यालयों में पोषण वाटिका के निर्माण के संबंध में विस्तृत दिशा-निर्देश दिया गया है। इस निदेश में भी पोषण वाटिका में सभी ऋतु तथा गर्मी, वर्षा एवं शरद ऋतु में पोषण वाटिका के लिए पौधा चिन्हित कर ऋतुवार स्पष्ट उल्लेख किया गया है।

Flexi Fund के अंतर्गत प्रति छात्र 4.15 रुपया

राज्य योजना से सप्ताह में दो दिन अंडा / फल पूरक पोषाहार के रूप में बच्चों को उपलब्ध कराया जाता है, जिसके लिए सोमवार एवं शुक्रवार का दिन निर्धारित है। साथ ही साथ Flexi Fund अन्तर्गत सप्ताह में एक दिन (बुधवार) रागी (मडुवा) का हलवा / लड्डू उपलब्ध करने हेतु राशि जिलों को अन्तरित कर दी गई है, जिसके अन्तर्गत प्रति छात्र रू. 4.15 की लागत पर बच्चों को रागी (मडुवा) का हलवा / लड्डू उपलब्ध कराया जाना है।

सफ्ताह के ये तीन दिन देना है मोरिंगा का पता

प्रधानमंत्री पोषण शक्ति निर्माण योजनान्तर्गत बच्चों को उपलब्ध कराये जा रहे मध्याहन भोजन के मेनू में सप्ताह में तीन दिन अनिवार्यतः मोरिंगा ( मुनगा) के पत्ता का उपयोग दाल / सब्जी / खिचड़ी इत्यादि में किया जाय ताकि भोजन की पौष्टिकता में वृद्धि एवं बच्चों को कुपोषण से मुक्त किया जा सके।

इस प्रकार मध्याह्न भोजन के मेनू में निम्नवत् तिथिवार अतिरिक्त (पूरक) पोषण को सम्मिलित किया जाना अनिवार्य है।

मध्याह्न भोजन

बड़ी खबर :झारखंड कैबिनेट बैठक 3 को, उर्दू संस्कृत विद्यालयों सहित इन प्रस्तावों पर लग सकती है मुहर

x

Leave a Comment