Search
Close this search box.

चंद्रयान-3: लैंडिंग के 2 घंटे 26 मिनट बाद लैंडर से बाहर आया रोवर, चांद पर छोड़ेगा भारत की छाप

Join Us On

चंद्रयान-3: लैंडिंग के 2 घंटे 26 मिनट बाद लैंडर से बाहर आया रोवर, चांद पर छोड़ेगा भारत की छाप

चंद्रयान-3: लैंडिंग के 2 घंटे 26 मिनट बाद लैंडर से बाहर आया रोवर, चांद पर छोड़ेगा भारत की छाप

बुधवार शाम 6:04 बजे चंद्रयान-3 का लैंडर चंद्रमा की सतह पर उतरा। दो घंटे 26 मिनट बाद उसमें से रोवर भी निकल आया. रोवर, एक छह पहियों वाला रोबोट, चंद्रमा की सतह को पार करेगा और अपने पहियों पर अशोक स्तंभ जैसा एक पदचिह्न छोड़ेगा। जैसे-जैसे रोवर चंद्रमा की सतह पर आगे बढ़ेगा, अशोक स्तंभ की छाप धीरे-धीरे अंकित होती जाएगी।

भारत को अपने तीसरे चंद्र मिशन चंद्रयान-3 में सफलता मिल गई है। बुधवार शाम 6:04 बजे चंद्रयान-3 का लैंडर धीरे से चंद्रमा की सतह पर उतरा।

भारत के चंद्रयान-3 ने चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव के पास उतरकर इतिहास रच दिया है. 40 दिनों की लंबी यात्रा के बाद बुधवार को चंद्रयान-3 के लैंडर ने सौम्य लैंडिंग की.

प्रज्ञान रोवर पर दो पेलोड्स लगे हैं। पहला, लेजर इंड्यूस्ड ब्रेकडाउन स्पेक्ट्रोस्कोप (Laser Induced Breakdown Spectroscope – LIBS) है। यह चांद की सतह पर मौजूद केमिकल्स यानी रासायनिक पदार्थों की मात्रा और गुणवत्ता की अध्ययन करेगा, और साथ ही खनिजों की खोज में भी मदद करेगा।

प्रज्ञान पर दूसरा पेलोड भी है, जिसका नाम अल्फा पार्टिकल एक्स-रे स्पेक्ट्रोमीटर (Alpha Particle X-Ray Spectrometer – APXS) है। यह तत्वों के संरचना का अध्ययन करेगा, जैसे कि मैग्नीशियम, एल्युमिनियम, सिलिकॉन, पोटैशियम, कैल्शियम, टिन और लोहा। इनकी खोज चांद की सतह के निकटवर्ती भूभाग पर की जाएगी।

 

Read more: Jharkhand JSSC Trained Primary Teacher Combined Competitive Exam – JTPTCCE 2023 Apply Online for 25998 Post

Jharkhand Health Department Recruitment 2023 [Post-171] Apply Now

Jharkhand JSSC Jharkhand Matric Level Combined Competitive Examination JMLCCE 2023 Apply Online for 455 Post

x

Leave a Comment