शिक्षा सचिव ने आधे दर्जन से अधिक स्कूलों का किया औचक निरीक्षण, कई पर गिर सकती है गाज

शिक्षा सचिव ने आधे दर्जन से अधिक स्कूलों का किया औचक निरीक्षण, कई पर गिर सकती है गाज

Join Us On

शिक्षा सचिव ने आधे दर्जन से अधिक स्कूलों का किया औचक निरीक्षण, कई पर गिर सकती है गाज

शिक्षा सचिव ने आधे दर्जन से अधिक स्कूलों का किया औचक निरीक्षण, कई पर गिर सकती है गाज

शिक्षा सचिव शनिवार को हजारीबाग जिले के तीन प्रखंडो में आधे दर्जन से अधिक स्कूलों का औचक निरीक्षण किया। कई खामी मिली तो कई स्कूलों पर गाज भी गिर सकती है।

शिक्षा सचिव के रवि कुमार ने शनिवार को इचाक प्रखंड के 3 स्कूलों में पहुंचकर शिक्षकों द्वारा बायोमेट्रिक हाजिरी बनाने में उत्पन्न कठिनाई को को दूर किया । इस दौरान उन्होंने शिक्षकों से कई बिंदुओं पर पूछताछ करते हुए 1 बायोमेट्रिक हाजिरी नहीं बनाने पर वेतन निकासी पर रोक लगाने की नसीहत दी ।

उन्होंने कहा कि शिक्षक अपने दायित्वों से भागने का कोशिश ना करें विभागीय नियमों का अनुपालन नहीं करने वाले शिक्षक शिक्षिकाओं के खिलाफ विभाग सख्त कार्रवाई करने जा रहा है । शिक्षा सचिव के ऐसे फरमान से शिक्षकों में हड़कंप मची हुई है । उन्होंने स्कूलों के साफ-सफाई गुणवत्तापूर्ण पढ़ाई एमडीएम में गुणवत्ता बच्चों और शिक्षकों के नियमित उपस्थिति अभिभावक शिक्षक मीटिंग समेत अन्य कई बिंदुओं पर शिक्षकों को अमल करने पर नसीहत दिया। उसके बाद शिक्षा सचिव के रवि कुमार ने बरकट्ठा के कई स्कूलों का निरीक्षण किया। ततपश्चात वे बरही बीआरसी होते हुए चरही नीकल गए।

चरही के परियोजना प्लस टू हाई स्कूल का किया निरीक्षण

चरही। रांची से हजारीबाग जाने के क्रम में शनिवार को झारखंड के शिक्षा सचिव के रवि कुमार चरही के परियोजना प्लस टू हाई स्कूल पहुंच गए। उनके स्वागत में जिला से शिक्षा विभाग के पदाधिकारी मौजूद थे। शिक्षा सचिव ने स्कूल की शैक्षणिक व्यवस्था की जानकारी ली । शिक्षा सचिव स्कूल के शिक्षकों और छात्रों के उपस्थिति की जांच की। ई विद्या वाहिनी के नया वर्जन आने के बाद विद्यालयों के शिक्षकों को बायोमैट्रिक डिवाइस में उपस्थिति दर्ज करने के बाद भी उपस्थिति दर्ज नही हो पाने की समस्या थी।

सचिव ने स्वयं सभी शिक्षकों को बायोमैट्रिक में उपस्थिति दर्ज करने की विधि बताई। मैट्रिक और इंटर की वार्षिक परीक्षा के परीक्षाफल की समीक्षा की गई। सभी शिक्षकों को निर्देश दिया कि बच्चों के परीक्षाफल में सुधार लाने की जरूरत है। प्रभारी प्राचार्य के द्वारा स्कूल के समस्या की जानकारी दी गई। विद्यार्थियों के लिए विषय वार शिक्षक की जरूरत और बैठने के लिए कमरों की जरूरत बताई गई। मौके पर डीईओ उपेंद्र नारायण सिंह, डीएसई संतोष कुमार गुप्ता और बीईईओ नागेश्वर सिंह को भी कई जरूरी दिशा-निर्देश दिए गए।

मिड डे मील के लिए केंद्रीयकृत रसोई (अक्षय पात्र ) के लिए निर्माणाधीन भवन का भी लिया जायजा

शिक्षा सचिव के रवि कुमार ने शनिवार को स्थानीय डेमोटांड में प्राथमिक विद्यालय के छात्रों के मिड डे मील के लिए केंद्रीयकृत रसोई के लिए निर्माणाधीन भवन का भी जायजा लिया। साथ में उपायुक्त नैंसी सहाय भी उपस्थित रही।

विभागीय सचिव ने निर्माणाधीन भवन का मुआयना किया और कार्य की प्रगति देखकर नाराजगी जताई। उन्होंने भवन निगम के कार्यपालक अभियंता से निर्धारित समय से निर्माण कार्यों में हो रही देरी की जानकारी ली। उन्होंने हर हाल में माह सितंबर के प्रथम सप्ताह में भवन निर्माण तथा बिजली कनेक्शन आदि की सभी कार्यों को दुरुस्त करते हुए केंद्रीयकृत रसोई को शुरू करने का निर्देश दिया। सचिव श्री कुमार ने अधिकारियों के साथ स्थल पर बैठक करते हुए शिक्षा अधीक्षक व शिक्षा पदाधिकारी को निर्माण कार्यों की प्रगति की नियमित निगरानी करने तथा नियमित रुप से हर प्रगति का फोटो उपलब्ध कराने का निर्देश दिया ताकि घोषित समय पर रसोई का परिचालन शुरू किया जा सकें।

मालूम हो कि भारतीय क विमानपत्तन प्राधिकरण के सहयोग से अक्षय पात्र फाउंडेशन ने मुकुंदगंज, हजारीबाग में केंद्रीयकृत रसोई का निर्माण कार्य किया जा रहा है। इस सुविधा के माध्यम से प्राथमिक विद्यालयों के छात्रों को पौष्टिक, गर्म और स्वादिष्ट मध्याह्न भोजन परोसने की योजना है। इस अवसर पर उपायुक्त नैंसी सहाय के अलावा जिला शिक्षा पदाधिकारी, जिला शिक्षा अधीक्षक, अक्षय पात्र के क्षेत्रीय अध्यक्ष स्वामी व्योम पद दास व अन्य उपस्तिथ थे।

बड़ी खबर : e kalyan Scholarship : छात्रवृत्ति फॉर्म भरने के लिए झारखंड सरकार ने दिया एक और मौका ,बाहर में पढ़ने वालों …

 

x

Leave a Comment