Search
Close this search box.

हजारीबाग की नई नवेली दुल्हन पांचवे दिन ससुराल से फरार, यहाँ शादी के 10 वें दिन महिला ने दिया बच्चे को जन्म

Join Us On

हजारीबाग की नई नवेली दुल्हन पांचवे दिन ससुराल से फरार, यहाँ शादी के 10 वें दिन महिला ने दिया बच्चे को जन्म

हजारीबाग की नई नवेली दुल्हन पांचवे दिन ससुराल से फरार, यहाँ शादी के 10 वें दिन महिला ने दिया बच्चे को जन्म

विवाह के मौके पर रची हाथों की मेहंदी फीकी भी नहीं हुई थी कि शादी के महज चार दिनों बाद नई नवेली दुल्हन के प्रेमी संग फरार हो गई।

इस संबंध में मिली जानकारी के मुताबिक चतरा के टंडवा के झंडा चौक निवासी के पास का दीपक कुमार की शादी बीते 2 मई को धूमधाम से हजारीबाग जिला अंतर्गत पदमा में संपन्न हुई।

शादी के महज 4 दिन बीतने के बाद ही दुल्हन अचानक ससुराल से फरार हो गई।

परिजनों ने इसकी लिखित सूचना स्थानीय थाना को दी है। बताया गया कि 6 जून की सुबह दुल्हन अचानक गायब हो गई। परिजनों के अनुसार एक स्विफ्ट कार उसके घर के पास रुकी थी। संभावना जताई जा रही है कि स्विफ्ट कार में ही बैठकर दुल्हन फरार हो गई है। सूत्रों की माने तो नई नवेली दुल्हन का प्रेम प्रसंग शादी के पहले से ही था । संभावना जताई जा रही है कि दुल्हन अपने प्रेमी संग फरार हुई हो ।

दूसरी घटना : पेट में हुई दर्द तो दुल्हन को ले गए अस्पताल.,.शादी के 10 दिन बाद दिया बच्चे को जन्म, पति ने अपनाने से किया इंकार

दूसरी घटना यूपी के कानपुर देहात, Kanpur Dehat का है। कभी-कभी रोजमर्रा की जिंदगी में ऐसी घटनाएं हो जाती हैं, जिसे सुनकर किसी का भी सिर चकरा जाता है। ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात से प्रकाश में आया है। जहां शादी के महज 10 दिन बाद ही एक नवविवाहिता ने बच्ची को जन्म दिया। इसके बाद पति और ससुराल वालों ने नवविवाहिता को अपनाने से इनकार कर दिया है। वहीं पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने गैंगरेप एवं एससी-एसटी का मुकदमा दर्ज की है।

क्या है मामला?

मामला कानपुर देहात के रूरा थाना क्षेत्र से है। थाना क्षेत्र के एक गांव में रहने वाली एक दलित युवती की शादी बीते 15 मई 2023 को भोगनीपुर कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में हुई थी। शादी होने के बाद नवविवाहिता चौथी पर जब अपने मायके आई तो उसको 25 मई को ही पेट में दर्द हुआ। परिजनों ने उसे अकबरपुर के एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया जहां प्रसव पीड़ा होने पर उसने 26 मई को एक बच्ची को जन्म दी। बच्ची कमजोर होने पर कुछ ही देर में उसकी मौत भी हो गई।

मामले की जानकारी पति एवं ससुरालजनों को हुई तो उन्होने पत्नी को अपनाने से मना कर दिया। मामले की क्षेत्र में जानकारी हुई तो इलाके में ये बात चर्चा का विषय बन गया जिसके बाद पीड़िता ने 6 जून को थाने में तहरीर देकर गांव के ही अरुण पाल एवं विनय पाल के खिलाफ कई बार जबरन दुष्कर्म एवं जान से मारने की धमकी देने का मुकदमा दर्ज करवाया है।

क्या कहती है पुलिस?

इस बाबत रूरा थाने के इंस्पेक्टर समर बहादुर सिंह ने कहा कि अरुण पाल एवं विनय पाल के खिलाफ़ 374-D,506 और 3(2) में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है, पीड़िता को मेडिकल के लिए भेजा गया, आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है।

source ‘ news paper

बड़ी खबर : क्यों याद नहीं रहता पिछला जन्म? बड़ी रोचक है इसकी वजह, जानें धार्मिक और वैज्ञानिक दृष्टिकोण

x

Leave a Comment