Search
Close this search box.

झारखंड में फिर से बढ़ने लगा ब्लैक फंगस के मरीज ,अलग अलग अस्पतालों में पांच मरीज भर्ती , ये दिख रहे लक्षण

Join Us On

झारखंड में फिर से बढ़ने लगा ब्लैक फंगस के मरीज ,अलग अलग अस्पतालों में पांच मरीज भर्ती , ये दिख रहे लक्षण

झारखंड में फिर से बढ़ने लगा ब्लैक फंगस के मरीज ,अलग अलग अस्पतालों में पांच मरीज भर्ती , ये दिख रहे लक्षण

झारखंड में ब्लैक फंगस के मरीज बढ़ने लगे हैं। राजधानी में फिर से ब्लैक फंगस के मरीज मिले हैं। इस बात की जानकारी रांची के मैक्सीलोफैसियल सर्जन अनुज ने दी है।

उन्होंने बताया कि 10 दिनों में रांची जमशेदपुर और बोकारो के करीब 5 मरीज पहुंचे हैं, इनमें से एक मरीज बेहतर इलाज के लिए दिल्ली चला गया है।उन्होंने बताया कि एक चीज जो सभी मरीजों में समान देखने को मिली कि सभी के जबड़े में दर्द और दांत के हिलने की शिकायत थी।

पिछली बार से अलग है। इन सभी मरीजों में कोविड का कोई पुराना मामला नहीं मिला है। इन पांचों मरीजों का इलाज चल रहा है। उन्होंने बताया कि जो मामले आ रहे हैं, उसमें मरीज को शुरुआत में कोई खास परेशानी नहीं होती है। लेकिन दांत व जबड़े में अचानक दर्द की अनुभूति होती है।

उन्होंने बताया कि शुगर के मरीजों को खास तौर पर सतर्क रहने की जरूरत है, अगर हाई ब्लड शुगर लगातार है तो इसे ठीक करने की जरूरत है।

कोरोना के दूसरे लहर के बाद बड़ी संख्या में लोग ब्लैक फंगस के शिकार हुए थे। कई मरीजों की जान भी चली गई थी।

चिकित्सकों के अनुसार ब्लैक फंगस का मृत्यु दर 50 फीसदी से अधिक है। इसलिए लोगों को थोड़ा भी लक्षण दिखने के बाद सतर्क हो जाना चाहिए। बता दें कि कोविड के दूसरे लहर के बाद 50 से अधिक संख्या में मरीज सिर्फ रिम्स में भर्ती हुए थे। एक मरीज को करीब 80 हजार से लेकर एक लाख तक रुपए तक के सिर्फ इंजेक्शन लगाए गए थे।

बड़ी खबर : झारखंड सरकार का बड़ा फैसला : आजादी के बाद खुले कई स्कूलों का नाम बदला , विभाग ने जारी की लिस्ट

x

Leave a Comment