Search
Close this search box.

केंद्र के तर्ज पर झारखंड के सरकारी कर्मियों का भी बढ़ेगा महंगाई भत्ता , 9000 तक होगा फायदा

केंद्र के तर्ज पर झारखंड के सरकारी कर्मियों का भी बढ़ेगा महंगाई भत्ता , 9000 तक होगा फायदा

Join Us On

केंद्र के तर्ज पर झारखंड के सरकारी कर्मियों का भी बढ़ेगा महंगाई भत्ता , 9000 तक होगा फायदा

केंद्र के तर्ज पर झारखंड के सरकारी कर्मियों का भी बढ़ेगा महंगाई भत्ता , 9000 तक होगा फायदा

केंद्र के तर्ज पर झारखंड सरकार के अधीनस्थ कर्मचारियों का भी महंगाई भत्ता चार फीसदी बढ़ाया जा सकता है।राज्य के भी कर्मियों का महंगाई भत्ता बढ़ाने से संबंधित प्रस्ताव झारखंड सरकार द्वारा तैयार किया गया है। छह तारीख को होनेवाली कैबिनेट की बैठक में इस पर फैसला होने की संभावना है।

बतादें कि हाल ही में भारत सरकार के कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़ा कर 42 फीसदी की गई है । वित्त विभाग के द्वारा राज्य कर्मियों का भी महंगाई भत्ता केंद्र के अनुरूप करने का प्रस्ताव बनाया गया है।

500 से 9000 रुपए तक का होगा फायदा

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार महंगाई भत्ता बढ़ाने को लेकर झारखंड कैबिनेट की तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है और कल होने वाली बैठक में इस पर निर्णय होने की संभावना है । कैबिनेट के मंजूरी के बाद कर्मचारियों को हर महीने कम से कम 500 रुपए से लेकर अधिकारियों को नौ हजार रुपए तक का फायदा होगा।

केंद्र सरकार द्वारा मार्च में हुई कैबिनेट की बैठक में सरकारी कर्मचारियों का वेतनमान में 38 फीसदी से बढ़ाकर 42 फीसदी किया गया है। कर्मचारियों को जनवरी 2023 से महंगाई भत्ते के साथ बढ़ी हुई दरें लागू कर दी गई है।

मंजूरी के बाद राज्य के 19,3000 कर्मचारी होंगे लाभान्वित

झारखंड के सरकारी कर्मियों को अभी 38 फीसदी महंगाई भत्ता मिलता है। यदि कल होने वाली कैबिनेट की बैठक में 4 फीसदी महंगाई भत्ता बढ़ाने को लेकर मुहर लगेगा तो राज्य के सरकारी कर्मियों का डीए भी सेंट्रल गर्वमेंट के कर्मचारियों के बराबर हो जाएगा और राज्य के लगभग 19,3000 कर्मचारी लाभान्वित होंगे।

इससे पूर्व हेमंत सरकार ने बीते साल दिवाली से पहले सरकारी कर्मचारियों को बड़ा तोहफा देते हुए महंगाई भत्ता को 34 फीसदी से बढ़ाकर 38 फीसदी किए थे।

बड़ी खबर : Cancellation of Trains : कल झारखंड की कई ट्रेनें हुई रद्द , इस समाज का कल रेल पटरी पर धरना,रेलवे ने जारी किया लिस्ट

x

Leave a Comment