Search
Close this search box.

पंचायतो के एक स्कूल बनेंगे मॉडल स्कूल,डीपीआरओ तैयार कर भेजा गया राज्य कार्यालय को

Join Us On

पंचायतो के एक स्कूल बनेंगे मॉडल स्कूल,डीपीआरओ तैयार कर भेजा गया राज्य कार्यालय को

"पंचायतो





हजारीबाग जिले के सभी पंचायतो के एक स्कूल मॉडल स्कूल बनाए जाएंगे। जिले के 16 प्रखंडों में कुल 256 पंचायत हैं। सभी 256 पंचायतों में स्थित एक-एक स्कूल को मॉडल स्कूल के लिए चुना गया है। यह बातें डीईओ उपेंद्र नारायण ने बताया । उन्होंने आगे कहा कि सरकार ने एक पंचायत में एक स्कूल को मॉडल स्कूल बनाने का निर्णय लिया है। जहां सबसे अधिक अध्ययनरत विद्यार्थियों की संख्या है उस स्कूल का चयन मॉडल स्कूल के लिए किया गया है। और डीपीआरओ तैयार कर राज्य परियोजना कार्यालय को भेजा गया है।




एक स्कूल को मॉडल बनाने में मिलेंगे 30 से 60 लाख तक

एक स्कूल को मॉडल बनाने में कम से कम 30 लाख और अधिक से अधिक 60 लाख रुपये खर्च दिए जाएंगे। जिसके लिए स्कूल का रंग- रोगन किया जाएगा। इसके अलावा आवश्यक सभी सुविधाओं का निर्माण एवं सामग्री की उपलब्धता की जायेगी।आवश्यक कार्य किए जाएंगे। शौचालय एवं पीने की पानी की व्यवस्था को बेहतर किया जाएगा।



मॉडल स्कूल बनाने के लिए एक पंचायत में सबसे अधिक विद्यार्थी नामांकित वाले एक स्कूल का चयन किया गया है। इसमें प्राथमिक, मध्य विद्यालय एवं उच्च विद्यालय को शामिल किया गया है। उत्तरी छोटानागपुर का प्रमंडलीय मुख्यालय जिला हजारीबाग की सभी 256 पंचायतों में स्थित सबसे अधिक विद्यार्थियों का नामांकन होने के कारण एक सरकारी स्कूल को मॉडल स्कूल (आदर्श विद्यालय) बनाने का निर्णय लिया गया है। राज्य परियोजना कार्यालय से अनुमति मिलने के बाद जिला शिक्षा परियोजना कार्यालय ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है।




खेल, कंप्यूटर, लैब समेत अन्य पठन- पाठन की सुविधाएं होगी उपलब्ध

मॉडल स्कूल का रूप देने के लिए इसका रंग-रोगन के अलावे
विद्यार्थियों के अनुसार क्लास रूम ,चारदीवारी भी बनेगी। वहीं जहां चारदीवारी टूटी है उसकी भी मरम्मति होगी। खेल, कंप्यूटर, लैब समेत अन्य पठन- पाठन की सुविधाएं उपलब्ध होगा।दृष्टिबाधित, अल्पदृष्टि बाधित एवं विकलांग विद्यार्थियों की सुविधा को देखते हुए स्कूल में आवश्यता के अनुसार कार्य होंगे।




बता दें कि उत्तरी छोटानागपुर प्रमंडलीय मुख्यालय जिला हजारीबाग में जिला स्तर पर अबतक चार मॉडल स्कूल बने हैं। प्रखंड स्तर पर सभी 16 प्रखंड में एक-एक मॉडल स्कूल का चयन किया जा चुका है।” width=”700″ height=”400″ />

हजारीबाग जिले के सभी पंचायतो के एक स्कूल मॉडल स्कूल बनाए जाएंगे। जिले के 16 प्रखंडों में कुल 256 पंचायत हैं। सभी 256 पंचायतों में स्थित एक-एक स्कूल को मॉडल स्कूल के लिए चुना गया है। यह बातें डीईओ उपेंद्र नारायण ने बताया । उन्होंने आगे कहा कि सरकार ने एक पंचायत में एक स्कूल को मॉडल स्कूल बनाने का निर्णय लिया है। जहां सबसे अधिक अध्ययनरत विद्यार्थियों की संख्या है उस स्कूल का चयन मॉडल स्कूल के लिए किया गया है। और डीपीआरओ तैयार कर राज्य परियोजना कार्यालय को भेजा गया है।

एक स्कूल को मॉडल बनाने में मिलेंगे 30 से 60 लाख तक

एक स्कूल को मॉडल बनाने में कम से कम 30 लाख और अधिक से अधिक 60 लाख रुपये खर्च दिए जाएंगे। जिसके लिए स्कूल का रंग- रोगन किया जाएगा। इसके अलावा आवश्यक सभी सुविधाओं का निर्माण एवं सामग्री की उपलब्धता की जायेगी।आवश्यक कार्य किए जाएंगे। शौचालय एवं पीने की पानी की व्यवस्था को बेहतर किया जाएगा।




मॉडल स्कूल बनाने के लिए एक पंचायत में सबसे अधिक विद्यार्थी नामांकित वाले एक स्कूल का चयन किया गया है। इसमें प्राथमिक, मध्य विद्यालय एवं उच्च विद्यालय को शामिल किया गया है। उत्तरी छोटानागपुर का प्रमंडलीय मुख्यालय जिला हजारीबाग की सभी 256 पंचायतों में स्थित सबसे अधिक विद्यार्थियों का नामांकन होने के कारण एक सरकारी स्कूल को मॉडल स्कूल (आदर्श विद्यालय) बनाने का निर्णय लिया गया है।

राज्य परियोजना कार्यालय से अनुमति मिलने के बाद जिला शिक्षा परियोजना कार्यालय ने इसकी तैयारी शुरू कर दी है।

खेल, कंप्यूटर, लैब समेत अन्य पठन- पाठन की सुविधाएं होगी उपलब्ध

मॉडल स्कूल का रूप देने के लिए इसका रंग-रोगन के अलावे
विद्यार्थियों के अनुसार क्लास रूम ,चारदीवारी भी बनेगी। वहीं जहां चारदीवारी टूटी है उसकी भी मरम्मति होगी। खेल, कंप्यूटर, लैब समेत अन्य पठन- पाठन की सुविधाएं उपलब्ध होगा।दृष्टिबाधित, अल्पदृष्टि बाधित एवं विकलांग विद्यार्थियों की सुविधा को देखते हुए स्कूल में आवश्यता के अनुसार कार्य होंगे।

बता दें कि उत्तरी छोटानागपुर प्रमंडलीय मुख्यालय जिला हजारीबाग में जिला स्तर पर अबतक चार मॉडल स्कूल बने हैं। प्रखंड स्तर पर सभी 16 प्रखंड में एक-एक मॉडल स्कूल का चयन किया जा चुका है।

बड़ी खबर :;झारखंड : बरही अनुमंडल के सभी क्षेत्रों में लगा धारा 144 , एक साथ पांच या उससे लोगों को घूमने पर प्रतिबंध




x

Leave a Comment